Latest
पुन्हाना :बिजली निगम द्वारा जनता दरबार लगाया सोनीपत:ब्रह्मकुमारीज द्वारा मनाया महाशिवरात्रि का महापर्वऑस्ट्रेलिया ने पहले दिन बनाए 256 रन, उमेश ने लिए 4 विकेटमोदी का अखिलेश को जवाब 'जनता के काम के लिए गधे से प्रेरणा लेता हूंBMC Results:शिवसेना बनी सबसे बड़ी पार्टी, BJP का जोरदार प्रदर्शनफरीदाबाद;बडख़ल विधानसभा क्षेत्र में विकास की गति निरंतर जारी:त्रिखाफरीदाबाद; सैक्टर 28 प्रतिनिधिमंडल ने राज्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपाफरीदाबाद;विपुल की शतकीय पारी की बदौलत महादेव देसाई क्रिकेट अकादमी जीतागुरुग्राम;विधायक ने बजट सत्र के लिए दर्जनभर प्रश्न कराए सूचिबद्धफरीदाबाद; दल ने पुलिस कमीशनर से की मुलाकात
Mera Shehar

सूरजकुंड मेले का आगाज

February 02, 2015 02:03 PM

 सूरजकुंड, सूरजकुंड मेले का आगाज रविवार को हो गया। मेले का उद्घाटन हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल एवं छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ़ रमन सिंह ने किया। दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने मेला परिसर का दौरा किया और उसके बाद चौपाल पर पहुंच दीप प्रज्जविलित कर मेले की विधिवत शुरुआत की। चौपाल पर उनके स्वागत में रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश हुए। मेले में किरकिस्तान, छत्तीसगढ़, हरियाणा, लेबनान के कलाकारों की प्रस्तुति पर लोग खूब झूमे। हरियाणा के कलाकारों की प्रस्तुति बेटी घर की शान तमसै समझाऊ सू पर पर लोगों ने जमकर तालियां बजाईं। चौपाल पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह ने कहा कि हरियाणा के लोगों की भागीदारी छत्तीसगढ़ के विकास में रही है। देश में जितना भी स्टील, एल्युमिनियम व सीमेंट पैदा होता है उसका 22 प्रतिशत छत्तीसगढ़ में पैदा होता है। सूरजकुंड मेला देश के राज्यों को ही साथ नहीं लाने का काम कर रहा है बल्कि विदेशों के साथ भी मैत्री संबंध बढ़ाने में सहयोग करता है। छत्तीसगढ़ विकसित राज्यों में आगे है और बेटी बचाओ मामले में भी छत्तीसगढ़ आगे है। छत्तीसगढ़ में सेक्स रेश्यो 997 है जो केरल के बाद दूसरे नंबर पर है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा छत्तीसगढ़ में भी हरियाणा के काफी लोग रहे हैं और साल 2003 में वह भी कुछ माह रहकर आए हैं। छत्तीसगढ़ में उनको जो मान मिला है, उसको वह सदैव याद रखते है। इस दौरान उन्होंने मेले का मोबाइल ऐप लॉन्च किया। उद्घाटन के अवसर पर हरियाणा पर्यटन के अतिरिक्त मुख्य सचिव एस़ एस़ ढिल्लो, केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्णपाल, छत्तीसगढ़ के पर्यटन मंत्री अजय चन्द्राकर, हरियाणा के पर्यटन मंत्री राम बिलास शर्मा एवं पर्यटन राज्य मंत्री कर्ण देव कंबोज, लैबनान के इकॉनमी एंड ट्रेड मंत्रालय की महानिदेशक आलिया अब्बास, विधायक विपुल गोयल, मूलचंद शर्मा, बड़खल विधायक सीमा त्रिखा अनेक लोग मौजूद रहे।

 

मेल में यह है खास

पांच जोन में बंटा है मेला

नक्शे में मेले को पांच जोन में बांटा गया है जिनके नाम ऋतुओं के आधार पर रखे गए हैं। शिशिर को जोन एक, शरद को जोन दो, ग्रीष्म को जोन 3 बनाया गया है। इसी प्रकार चौथे जोन को बसंत और पांचवे जोन को वर्षा का नाम दिया गया है।

मेले का नक्शा भी

मेले के नक्शे में 13 मुख्य स्थानों को दर्शाया गया है। इन्हें जिनमें एक नंबर कोटायामबलम गेट, दो नंबर मुक्तवाशवर गेट, तीन नंबर मेला सचिवालय, चार नंबर दानिशवारी गेट, पांच नंबर चार मिनार गेट, छ: नंबर मीडिया सेंटर, सात नंबर राजस्थानी हवेली, आठ नंबर बड़ी चौपाल, नौ नंबर सिक्किम गेट, दस नंबर महाराष्ट्र गेट, 11 नंबर गुजरात गली, 12 नंबर छत्तीसगढ़ गेट और 13 नंबर को छोटी चौपाल का नाम दिया गया है। नक्शे में टिकट काउंटर्स, फूड कोर्ट, शौचालय, सूचना या एलाउंसमेट, पुलिस, एटीएम और स्नेक दुकानों के चिन्ह भी दर्शाए गए हैं।

टिकट व जानकारी आसान

मेले की समयसारिणी में इस बार बदलाव करते हुए इसे प्रात: 10:30 बजे से सायं 8:30 रखा गया है। मेले के बारे में अधिक जानकारी के लिए लोग हरियाणा पर्यटन विभाग व सूरजकुंड मेला प्राधिकरण के फोन नंबर 0172-2704886, 0129-2512317-18 व फैक्स नंबर 0129-2515000 से प्राप्त की जा सकती है। मेला में आने वाले आगंतुक मेला टिकट haryanatourism.gov.in से ले सकते हैं। दिल्ली के चुनिंदा मेट्रो स्टेशन और बुक माई शो के माध्यम से भी प्राप्त किए जा सकते हैं।

 
Have something to say? Post your comment
India Kesari
Email : editor@indiakesari.com
Copyright © 2016 India Kesari All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech