National

ब्लू व्हेल गेम की एडमिन 17 साल की लड़की गिरफ्तार

September 01, 2017 02:57 PM
इंडिया केसरी/मदुरै में ब्लू व्हेल गेम से एक कॉलेज छात्र की मौत के बाद मद्रास हाईकोर्ट ने इस मामले में खुद संज्ञान लिया है. हाईकोर्ट की मदुरै बेंच सोमवार को ब्लू व्हेल गेम मामले की सुनवाई करेगी. बुधवार को कथित तौर पर ब्लू व्हेल गेम की वजह से एक कॉलेज छात्र ने ख़ुदकुशी कर ली.पुलिस को अंदेशा है कि अकेले मदुरै के 75 बच्चे ब्लू व्हेल गेम खेल रहे हैं.मदुरै पुलिस ने इसके लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है.

ब्लू व्हेल गेम की एडमिन गिरफ्तार
उधर, ब्लू व्हेल गेम की एडमिन 17 साल की लड़की गिरफ्तार हो गई है. वह रूस की रहनेवाली है. यह गेम रूस में भी कई बच्चों की जान ले चुका है. लड़की पर आरोप है कि जानलेवा ब्लू व्हेल चैलेंज गेम के पीछे उसी का हाथ है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक- लड़की शिकार को धमकी दिया करती थी कि अगर उसने ब्लू व्हेल टास्क पूरा नहीं किया तो वह उसे और उसके परिवार का खून कर देगी. ब्लू व्हेल चैलेंज उन्हीं लोगों को अपना शिकार बनाता है, जो तनाव जूझ रहे हैं और आत्महत्या करने के बारे में सोचते हैं. रूसी पुलिस द्वारा गिरफ्तारी का फुटेज जारी किया गया है. आरोपी लड़की मनौविज्ञान की छात्रा है और उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. अदालत में हुई पेशी के बाद उसे तीन साल के लिए जेल भेजा गया है.

मदूरै में एक नौजवान की मौत
हाल ही में मदूरै में ब्लू व्हेल गेम से एक और नौजवान की मौत हो गई थी. बाएं हाथ पर किसी तेज धार चीज़ से बना ये ब्लू व्हेल का टैटू संदेह पैदा करता है कि दक्षिण भारत का एक और नौजवान ब्लू व्हेल गेम का शिकार हो गया. मदुरै के मन्नार कॉलेज में बीकॉम सेकंड ईयर में पढ़ने वाले 19 साल के विग्नेश ने कथित तौर पर ख़ुदकुशी कर ली. शुरुआती जानकारी से लग रहा है कि लड़ने ने ब्लू व्हेल गेम खेला होगा. तमिल में एक नोट मिला जिसमें लिखा हुआ है कि ये बस खेल नहीं है, एक बार आप दाखिल होते हैं तो आप छोड़ नहीं सकते. मैं हर किसी से अपील करता हूं. कृपया यह खेल कभी न खेलें. देखिए हमारे परिवार का क्या हाल हुआ? पुलिस का कहना है कि परिवारवालों ने विग्नेश को अलग-थलग पड़ते और इंटरनेट पर बहुत समय लगाते देखा था, मगर उन्हें संदेह नहीं हुआ. परिवार को सतर्क रहना चाहिए था कि वह क्यों मोबाइल पर इतनी देर खेलता है. परिवार का कहना है कि वह रात को 2 बजे तक मोबाइल चलाता रहता था.
मुदरै पुलिस ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर
मदुरै पुलिस ने अब ब्लू व्हेल गेम के खिलाफ लड़ाई लड़नी शुरू कर दी है. पुलिस को अंदेशा है कि अकेले मदुरै के 75 बच्चे ब्लू व्हेल गेम खेल रहे हैं.ये बच्चे विग्नेश के दोस्त हो सकते हैं. मदुरै पुलिस ने इसके लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है. हेल्पलाइन नंबर है 7708806111

मेनका गांधी ने लिखी स्कूलों को चिट्ठी
स्कूलों को मेनका गांधी ने लिखा है कि ब्लू व्हेल चैलेंज से बच्चों की ख़ुदकुशी से बेहद दुखी हैं. ख़ुद को ख़त्म करनेवाले खेल में बच्चों का फंसना दुखद है.गेम का शिकार हो रहे बच्चों को लेकर बेहद सतर्क होने की ज़रूरत है. सूचना प्रसारण मंत्रालय से तकनीकी हल निकालने को कहा है. शिक्षकों और बच्चों को इसके बारे में समझाना ज़रूरी है. शिक्षक सतर्क रहें, बच्चों की हर गतिविधि पर पैनी नज़र रखें. बच्चों में ऐसा कोई लक्षण दिखे तो उनके माता-पिता से संपर्क करें. चाइल्डलाइन 1098 पर ऐसी घटनाओं की जानकारी दे सकते हैं. चिट्ठी में मेनका गांधी ने सभी शिक्षकों से बच्चों की हर गतिविधि पर कड़ी निगाह रखने को कहा है ताकि बच्चे इस खूनी खेल का शिकार न बनें.
Have something to say? Post your comment
India Kesari
Email : editor@indiakesari.com
Copyright © 2016 India Kesari All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech