Latest
इंग्लैंड के खिलाफ डेढ़ बजे से दूसरा वनडे आज बाबा रामदेव ने ओलंपिक पदक विजेता पहलवान को दी पटखनीरईस के प्रमोशन में शामिल ना होने पर दुखी हैं महिरा खानसलमान ख़ान को एड्स है, इसलिए नहीं कर रहे शादी: स्वामी ओम डॉ मनमोहन सिंह ने उर्जित पटेल से कहा 'इस सवाल का जवाब मत देना..'सिसोदिया पर सरकारी पैसे के दुरुपयोग का आरोप,मोदी को दी चेतावनीक्या यूपी का चुनावी गणित बदलने का माद्दा रखता है SP-कांग्रेस गठबंधन?कैथल:प्रदेश विरोधी सुर्जेवाला के लिए हरियाणा की सीमाएं सील: दिग्विजय झज्जर;चौपालों पर यूं ही आते रहोगे तो, ताऊ की तरह छा जाओगे:ग्रामीणचंडीगढ़:भाजपा व कांग्रेस SYLके पानी से वंचित रखना चाहती हैं;चौटाला
Health

दूध में मिलाकर हल्दी पीने के फायदे

January 06, 2017 11:59 AM

आम तौर पर सर्दी होने या शा‍रीरिक पीड़ा होने पर घरेलू इलाज के रूप में हल्दी वाले दूध का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं, कि हल्दी वाले दूध के एक नहीं अनेक फायदे हैं? आयुर्वेद में हल्दी को सबसे बेहतरीन नेचुरल एंटीबायोटिक माना गया है। इसलिए यह स्किन, पेट और शरीर के कई रोगों में उपयोग की जाती है। हल्दी व दूध दोनों ही गुणकारी हैं, लेकिन अगर इन्हें एक साथ मिलाकर लिया जाए तो इनके फायदे दोगुना हो जाते हैं। इन्हें एक साथ पीने से यह कई स्वास्थ्य संबंधित समस्याएं दूर होती हैं।

 

हडि्डयों को फायदा

रोजाना हल्दी वाला दूध लेने से शरीर को पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम मिलता है। हड्डियां स्वस्थ और मजबूत होती है।

गठिया दूर करने में सहायक

हल्दी वाले दूध को गठिया के निदान और रियूमेटॉइड गठिया के कारण सूजन के उपचार के लिए उपयोग किया जाता है। यह जोड़ो और पेशियों को लचीला बनाकर दर्द को कम करने में भी सहायक होता है।

वजन कम करने में सहायक

वजन कम करना हल्दी वाले दूध से पोषण के फैट्स को नष्ट करने में सहायता मिलती है। यह वजन को कंट्रोल करने में सहायक होता है।

सांस संबंधी बीमारियां

सांस संबंधी बीमारियां हल्दी वाला दूध प्रतिजैविक होने के कारण जीवाणु और विषाणु के संक्रमण पर हमला करता है। इससे सांस सम्बन्धी बीमारियों के उपचार में लाभ मिलता है। यह मसाला आपके शरीर में गरमाहट लाता है और फेफड़े व साइनस में जकड़न से तुरंत राहत मिलती है।

कैंसर

कैंसर जलन और सूजन कम करने वाले गुणों के कारण यह स्तन, त्वचा, फेफड़े, प्रॉस्ट्रेट और बड़ी आंत के कैन्सर को रोकता है। यह कैंसर कोशिकाओं से डीएनए को होने वाले नुकसान को रोकता है और कीमोथेरेपी के दुष्प्रभावों को कम करता है।

नींद न आना

हल्दी वाला गर्म दूध ट्रिप्टोफैन नामक अमीनोअम्ल बनाता है जो शान्तिपूर्वक और गहरी नींद में सहायक होता है।

सर्दी और खांसी

सर्दी और खांसी अपने प्रतिजीवाणु और प्रतिविषाणु गुणों के कारण हल्दी वाले दूध को सर्दी और खांसी का बेस्ट उपचार माना जाता है।

Have something to say? Post your comment
India Kesari
Email : editor@indiakesari.com
Copyright © 2016 India Kesari All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech