Health

क्यों खाने चाहिए इन सब्जियों के छिलके,जानिये

January 05, 2017 12:05 PM
अगर आपको कोई कहे कि सब्ज‍ियों के छिलके खाया करो, तो आप जाहिर तौर पर उसे पागल ही समझेंगे. लेकिन एक हालिया अध्ययन में यह बात साबित कर दी गई है कि सब्ज‍ियों के जिन छिलकों को हम वेस्ट समझकर फेंक देते हैं, दरअसल, वो हमारी सेहत के लिए बेहद उपयोगी साबित हो सकते हैं. आइये जानते हैं कि किन सब्‍ज‍ियों और फलों के छिलके का आप खाने में इस्तेमाल कर सकते हैं.
गाजर के छिलके

गाने खाने से आंखों की रौशनी तेज होती है यह तो हम सब जानते हैं. पर आपको यह जान कर हैरानी होगी कि गाजर का छिलका खाने से न केवल आंखों की रोशनी में सुधार होता है, बल्क‍ि कैंसर का खतरा भी कम होता है. गाजर के छिलके में विटामिन बी-6, सी और ए, मैग्‍नीशियम व पोटैशिमय के साथ-साथ फाइटो-न्‍यूट्रिएंट्स भी पाया जाता है, जो शरीर में कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने नहीं देता. इसके अलावा इसमें बीटा कैरोटिन की मात्रा होती है, जो त्‍वचा पर हुए धूप के असर को कम करता है.

सेब के छिलके
सेब को लेकर एक बेहद मशहूर कहावत है, 'एपल ए डे, कीप्स डॉक्टर अवे'. ऐसा इ‍सलिए है क्योंकि सेब में भरपूर मात्रा में मिनरल और विटामिन मिलते हैं. पर आपको शायद यह नहीं मालूम होगा कि सेब के छिलके में भी प्रचूर मात्रा में पोषक तत्व होते हैं. सेब के छिलके में एक ऐसा फाइबर होता है, जो शरीर के खराब कोलेस्ट्रॉल और ब्लड शुगर को कम करता है. हालांकि सेब को छिलका सहित खाने से पहले उसे अच्छी तरह साफ कर लेना चाहिए, ताकि अगर उस पर वैक्स लगा हो तो वह साफ हो जाए.

आलू के छिलके
आलू के छिलके भी खाने के काम आ सकते हैं, ये तो आपने सपने में भी नहीं सोचा होगा. हालांकि, पुराने जमाने में लोग सब्जी में आलू का इस्तेमाल छिलके समेत करते थे, पर खाते वक्त वो भी छिलका उतार देते थे. आप भी अगर ऐसा करते हैं तो आपको बता दें कि आलू के छिलकों में आलू से ज्‍यादा गुण होते हैं. इसके छिलकों में कैल्शियम, विटामिन बी कॉम्‍पलेक्‍स, विटामिन सी, आयरन आदि होते हैं. किसी व्यक्त‍ि को विटामिन 'ए' की जरूरत है तो आलू के छिलकों से इसकी कमी पूरी की जा सकती है. आलू के छिलके खाने से आंखों की रोशनी बढ़ती है और प्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत होती है. इसलिए आलू को छिलकों के साथ बनाएं. बस इस्तेमाल से पहले उसे अच्छी तरह सादा या गर्म पानी से जरूर धो लें.

केले के छिलके
वेस्ट समझकर केले के छिलकों को डस्टबीन में डाल देते हैं. पर आपको बता दें कि केले के छिलके में बहुत से पोषक तत्व होते हैं, मसलन विटामिन 'ए' और लुटीन तत्‍व, जो कि आंखों में मोतियाबिंद होने से रोकता है और आंखों की रोशनी भी बढ़ाता है. इसके अलावा इसमें एंटी-ऑक्सीडेंटस, विटामिन-बी और विटामिन-बी-6 की मात्रा प्रचूर होती है.

बैंगन के छिलके
बैंगन के छिलके भी पौष्टिक तत्‍वों से भरपूर होते हैं. इसमें मौजूद नैसोनिन एंटीऑक्सिडेंट दिमाग और नर्वस सिस्टम में होने वाले कैंसर से बचाता है. इसे खाने से उम्र का असर भी कम होता है. बैंगन के छिलके में मौजूद फाइबर शरीर की कोशिकाओं की रक्षा करने में मदद करता है.

खीरे के छिलके
खीरा अगर छिलका समेत खाया जाए तो शरीर में कैल्श‍ियम, फास्फोरस, मैग्नीशियम, पोटैशियम, विटामिन 'ए' और विटामिन 'के' की कमी पूरी की जा सकती है. खीरे के छिलके में फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट्स भी होते हैं.

Have something to say? Post your comment
India Kesari
Email : editor@indiakesari.com
Copyright © 2016 India Kesari All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech