Latest
भारत के इस कदम से चीन को लग सकती है मिर्ची!विशाल सिक्का की विदाई 32 हज़ार करोड़ की पड़ी!राहुल गांधी के करीबी आशीष कुलकर्णी ने छोड़ी कांग्रेस, लगाए बड़े आरोपनूह:प्रसिद्ध हास्य कलाकार ख्याली का नि:शुल्क हास्य कार्यक्रम 19 अगस्त कोनगर निगम के ड्राईवरों ने श्रेणी वाईज वेतन देने की मांग को लेकर की हड़तालपुन्हाना: मेवात इंजीनियरिंग कालेज नूंह द्वारा कवि सम्मेलन आयोजितरोहतक:फिजियोथैरेपी विभाग के छात्रों ने फूंका कुलपति का पुतलास्मार्ट सिटी में चार चांद लगायेगी अक्षय जल योजना: सीमा त्रिखारोहतक :संत गोपालदास को रिहा किया जाये और मांगे माने सरकार : जयहिंद इण्डियन बैंक ने 111वें स्थापना दिवस पर किया निशुल्क हैल्थ चैकअप कैम्प का आयोजन
Gurgaon

सोहना: नगरपरिषद विभाग में राजनीति चरम सीमा पर

December 30, 2016 04:43 PM

सोहना: सोहना नगरपरिषद विभाग में राजनीति चरम सीमा पर हैं। विभाग कर्मचारियों को लेकर राजनीति करने में जुटा हुआ हैं। अधिकारी गण नगरपरिषद अधिनियम की धारा 35 की आड लेकर विभागीय कोष को नुकसान पहुंचाने में लगे हुए हैं। विभाग ने गत दिनों नियुक्त 40 सफाई कर्मचारियों को बाहर का रास्त दिखा कर कुल 85 सफाई कर्मचारियों को भर्ती करने के फरमान जारी किए हैं। सूत्र बताते हैं कि उक्त आदेश धारा 35 के तहत किए हैं। उल्लेखनीय हैं कि गत एक माह पूर्व परिषद विभाग द्वारा 40 सफाई कर्मचारियों को दैनिक वेतन पर नियुक्त किया गया था। जिनकी नियुक्ती धारा 35 के तहत की गई थी। किन्तु विभाग ने राजनीति के चलते मात्र 25 दिन कार्य करने के बाद उक्त कर्मचारियों को हटाने के आदेश दे डाले तथा 50 नये सफाई कर्मचारियों की भर्ती की प्रक्रिया आरम्भ कर दी। उक्त आदेशों के जारी होने पर कर्मचारियों ने रोष व गुस्सा पनपने लगा। वीरवार को कर्मचारी नेताओं ने परिषद अधिकारियों से बातचीत की। किन्तु असफल रही। कर्मचारियों एकत्रित होकर धरना प्रदर्शन करने का ऐलान कर डाला। वही कर्मचारियों के अडियल रूख को देखकर विभाग ने हटाऐ गऐ 40 दैनिक वेतन कर्मचारियों को आनन फानन में नियुक्त करने के मौखिक आदेश दे डाले। किन्तु कर्मचारी गण विभाग की कार्यप्रणाली से संतुष्ठ ना थे। कर्मचारियों ने शुक्रवार को परिषद प्रांगण में एकत्रित होकर धरना प्रदर्शन आरम्भ कर डाला। उत्तेजित कर्मचारियों ने विभाग अधिकारियों व पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। कर्मचारियों के उग्र रूख को देखकर विभाग को पुलिस प्रशासन बुलाना पडा। जिन्होंने कर्मचारियों को काफी समझाने का प्रयास किया। लेकिन नहीं माने, परिषद अधिकारियों व उत्तेजित कर्मचारियों में आपसी तनातनी को देखकर परिषद कार्यालय के बाहर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया। प्रदर्शन के दौरान युनियन नेता देवी ङ्क्षसंह प्रधान, रामलाल शर्मा, विजेन्द्र फौगाट, राजन वर्मा, आदि मौजूद थे।
अधिकारी रहे नदारद
सफाई कर्मचारी द्वारा किए गए विरोध प्रदर्शन के दौरान परिषद अधिकारीगण व चेयरपर्सन नदारद दिखाई दिए। कर्मचारियों ने मौके पर मौजूद नगरपालिका एम ई अजय पंछाल को दफतर में प्रवेश होते ही घेराब कर डाला जिसके चलते एम ई को कर्मचारियों की खरी खोटी बातों को सुनना पडा। वहीं एम ई अजय पछंाल ने कर्मचारी नेताओ का सभी मांगे पुरा करने का आश्वासन दिया।
विभाग को पडा झुकना
सफाई कर्मचारियों द्वारा किए गऐ धरना प्रदर्शन में सर्व कर्मचारी संघ के सामने आने से परिषद विभाग को आखिरकार झुकना पडा। पुलिस विभाग की ए सी पी सुखबीर ङ्क्षसंह व थाना प्रभारी मुकेश कुमार द्वारा विभाग अधिकारियों व कर्मचारी नेताओं के बीच समझौता वार्ता के लिए सकारात्मक भूमिका निभाई जो देर सांय तक चली।

Have something to say? Post your comment
India Kesari
Email : editor@indiakesari.com
Copyright © 2016 India Kesari All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech