Health
लहसुन के दूध का चमत्कारी फायदा
January 17, 2017 11:35 AM

कमर दर्द से अक्सर लोग परेशान रहते हैं. साइटिका पेन में कमर से पैर की नसों तक दर्द जाता है और इससे अक्सर लोग परेशान रहते हैं.इसके लिए लोग पेन किलर्स खाते हैं. हालांकि इस कमर दर्द को दूर करने के लिए कुछ आसान घरेलू उपाय हैं और इन्हीं में से एक है लहसुन के दूध का उपचार. यह एक पुराना तरीका है और नसों में आई सूजन को कम करके दर्द में राहत देता है.

 

कैसे काम करता है गार्लिक मिल्क
लहसुन के दूध में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्‍सीडेंट और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं. यह दरअसल एक प्राकृतिक पेय है, जो कई वर्षों से आंत के परजीवियों को मारने और संक्रमण से लड़ने के लिए इस्तेमाल होता था.गार्लिक मिल्क में जरूरी पौष्ट‍िक तत्व जैसे विटामिन (A, B1 और C) मिनरल, पॉलीसैक्‍राइड्स, प्रोटीन, फ्लेवोनॉइड्स और एंजाइम्‍स होते हैं. ये चीजें बैक्‍टीरिया की वजह से शरीर की नसों में आई सूजन को कम करके कमर दर्द में राहत देती हैं.

लाल मिर्च खाने से बढ़ती है उम्र
January 17, 2017 11:31 AM

अगर आपको लाल मिर्च खाना पसंद है तो दिल खोलकर और बेहिचक खायें. क्योंकि इससे आपकी उम्र बढ़ जाएगी. जी हां, हालिया अध्ययन में यह दावा किया गया है कि जो लोग ज्यादा मिर्च या मसालेदार खाना खाते हैं, उनमें हार्ट अटैक या स्ट्रोक का खतरा कम हो जाता है. लाल मिर्च खाने वाले लोगों में हार्ट अटैक और स्ट्रोक की वजह से होने वाली मौत का खतरा 13 फीसदी कम हो जाता है.बता दें कि पुराने जमाने में मिर्च और कई दूसरे मसालों का इस्तेमाल दवाओं के निर्माण में किया जाता था. मिर्च व्यक्त‍ि का बचाव कई रोगों से कर सकती है. चीन में लाल मिर्च खाने की प्रथा भी है.हालांकि शोधकर्ता लाल मिर्च में पाए जाने वाले उस तत्व (जिससे हार्ट अटैक का खतरा कम होता है) का पूरी तरह पता नहीं लगा पाए हैं, पर एक अंदाजा है कि मिर्च में पाया जाने वाले कैपसेसिन नाम के तत्व का इससे रिश्ता है.

क्‍या आपको बार-बार चक्‍कर आते हैं? अपनाएं ये घरेलू उपचार
January 16, 2017 11:05 AM

क्‍या आपको कभी कभी ऐसा महसूस होता है कि आप खड़े खड़े चक्‍कर खा कर गिर जाएंगे? अगर हां, तो ऐसे कुछ घरेलू उपचार मौजूद हैं, जो आपके शरीर को अंदर से मजबूत बनाएंगे और चक्‍कर आने की समस्‍या से निजात दिलाएंगे। क्‍या आप जानते हैं कि चक्‍कर क्‍यूं आते हैं? आपको चक्‍कर कमजोरी, लो ब्‍लड प्रेशर, खराब आहार, थकान, स्‍ट्रेस, साइनस, घबराहट या शराब और ड्रग्‍स की वजह से आ सकते हैं। आइये जानते हैं कि चक्‍कर को हमेशा के लिये खतम करने का कौन सा घरेलू उपचार है।

सर्दियों में क्‍यूं खानी चाहिये रोज़ दही,जानिये
January 16, 2017 11:01 AM

दही में काफी सारे महत्‍वपूर्ण स्‍वास्‍थ्‍य वर्धक गुण पाऐ जाते हैं, जिसे सर्दियों में जरुर खाना चाहिये। कई लोगों का मानना है कि ठंडी के मौसम में दही नहीं खानी चाहिये क्‍योंकि इससे ठंडक लग जाती है। मगर यह धारणा बिल्‍कुल गलत है।दही में ढेर सारा विटामिन, पोटेशियम, मैग्नीशियम और प्रोटीन होता है। इसके अलावा दही में लैक्टोबैसिलस, प्रोबायोटिक और अच्छे बैक्टीरिया भी होते हैं, जो कि हानिकारक बैक्‍टीरिया से लड़ कर आपको संक्रमण से बचाने का काम करते हैं।

स्क‍िन से जुड़ी हर प्रॉब्लम का इलाज है लौंग का तेल
January 13, 2017 12:30 PM

लौंग का इस्तेमाल कई तरह के पकवान बनाने में किया जाता है. इसके अलावा ये एक बेहतरीन औषधि भी है. दांत दर्द, खांसी और बलगम हो जाने पर भी लौंग के इस्तेमाल की सलाह दी जाती है.लौंग में एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-फंगल गुण पाया जाता है. इसके अलावा ये एंटी-ऑक्सीडेंट का भी अच्छा माध्यम है. एक ओर जहां लौंग एक बेहतरीन औषधि है वहीं इसका इस्तेमाल त्वचा की देखभाल के लिए भी किया जाता है. लौंग एक बेहतरीन ब्यूटी प्रोडक्ट है. इसके नियमित इस्तेमाल से आप त्वचा से जुड़ी कई परेशानियों से राहत पा सकते हैं:

झटपट दूर करें गर्दन का कालापन
January 13, 2017 12:26 PM

आमतौर पर हम अपने चेहरे की सफाई पर जितना ध्यान देते हैं, उतना गर्दन की सफाई पर गौर नहीं करते. ऐसे में, गर्दन पर मैल जमने लगती है और धीरे-धीरे मैल का कालापन जम जाता है. हम यहां कुछ ऐसे घरेलू टिप्स लेकर आए हैं, जिनकी मदद से आप अपनी गर्दन को साफ और सुंदर बना सकती हैं. आइये जानते हैं कैसे...

नींबू का रस
नींबू में विटामिन सी और सिट्रिक एसिड होता है. इसकी वजह से इसे प्राकृतिक ब्लीच भी कहते हैं. गर्दन का कालापन हटाने के लिए नहाने से पहले पांच या दस मिनट तक गर्दन पर नींबू का टुकड़ा रगड़ें. अगर आपकी त्वचा बहुत ज्यादा नाजुक है तो आप इसमें गुलाब जल मिला सकती हैं. इसके लगातार प्रयोग से आपकी गर्दन पर जमी मैल छूट जाएगी.

सुबह-सुबह खाली पेट कभी न खायें ये 5 चीजें
January 12, 2017 10:42 AM

सुबह-सुबह ऑफिस भागने की जल्दबाजी में हम कुछ भी खाली पेट खाकर ऑफिस के लिए निकल जाते हैं. आपकी यह आदत सेहत पर भारी पड़ सकती है. विशेषज्ञ कुछ चीजों को खाली पेट खाने से मना करते हैं. हालिया शोध में अब इस बात को साबित भी कर दिया गया है. आइये जानते हैं कौन सी वो चीजें हैं, जिन्हें कभी भी खाली पेट नहीं खानी चाहिए...

 मसालेदार खाना

सुबह-सुबह ब्रेकफास्ट में कभी भी स्पाईसी या बहुत मीर्च वाली चीजें नहीं खानी चाहिए. इससे पूरे दिन पेट में एसिडिटी बनती है और यह अल्सर की वजह भी बन सकता है.

सॉफ्ट ड्रिंक

सॉफ्ट ड्रिंक्स खास तौर से कोल्ड ड्रिंक्स खाली पेट कभी न पीयें. इनमें उच्च मात्रा में कार्बोनेट एसिड होता है. यह पेट के एसिड से मिलकर गंभीर परेशानी का कारण बन सकते हैं. इसके अलावा आपको गैस और उल्टी की समस्या भी झेलनी पड़ सकती है.

सर्दी में बीमारियों से बचने के लिए खाएं सिर्फ गुड़
January 12, 2017 10:39 AM

गुड़ गन्ने के रस से तैयार किया जाता है और किचन में इसका अपना अलग स्थान होता है. खानपान के अलावा गुड़ का आयुर्वेद में काफी महत्व बताया गया है. गुड़ शरीर में खून की कमी होने से रोकता है साथ ही यह एक एंटीबॉयोटिक की तरह भी काम करता है. सर्दी के मौसम में गुड़ का सेवन करना सभी उम्र वर्ग के लोगों के लिए फायदेमंद रहता है.

मेथी दाने में शहद मिलाएं, जल्दी वजन घटाएं
January 11, 2017 11:43 AM

हरी मेथी की सब्जी और पराठे जहां स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद हैं, वहीं मेथी के दाने भी कई बीमारियों की अचूक दवा हैं. यह वजन कम करने, बल्ड प्रेशर को नियंत्रण में रखने तथा डायबिटीज को दूर रखने में काफी मददगार होते हैं.जिन्हें ज्यादा भूख लगती है, अगर वो यह खाएं तो उनकी बार-बार खाने की आदत भी कम हो जाती है. इसमें फाइबर होता है, जो कब्ज को भी दूर भगाता है. आइए जानते हैं मेथी के दानों से कैसे वजन घटाया जा सकता है:

हरा प्याज स्वास्थ के लिए हैं वरदान
January 09, 2017 12:17 PM

कोई भी सब्जी में प्याज डाल दे तो सब्जी का जायका ही बदल जाता हैं साथ ही प्याज स्वास्थ के लिए बहुत लाभप्रद होता हैं। लेकिन हम सर्दियों की बात करे तो सर्दियों में हरे प्याज की बिक्री ज्यादा बढ़ जाती हैं। हरे प्याज केवल चार महीने ही आते हैं और इन चार महीनो में इनको खा लिया तो सालभर आपका शरीर स्वस्थ बना रहेगा। सर्दियों में हरे प्याज खाने बहुत कारगर साबित होता हैं।

बीमारियों में रामबाण है अंगूर का सेवन
January 09, 2017 12:14 PM

अंगूर में कई पोषक तत्व पाए जाते हैं जो कई बीमारियों में फायदेमंद होता है अंगूर का सेवन करने से कैंसर जैसी बड़ी बीमारी में भी राहत मिलती है और टीबी, मधुमेह और ब्लड-इंफेक्शन जैसी बीमारियों में ये मुख्य रूप से फायदेमंद होता हैपोटेशियम की कमी से दांत हिलने लगते हैं और बाल बहुत टूटते हैं, त्वचा ढीली व निस्तेज हो जाती है, जोडों में दर्द व शरीर में जगडन होने लगती है। इन सभी रोगों को अंगूर दूर रखता है। अंगूर में सीमित मात्रा में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फैट, सोडियम फाइबर विटामिन ए, सी, ई और के, कैल्शियम, कॉपर, जिंक, आयरन, ग्लूकोज, मैग्नीशियम और साइट्रिक एसिड जैसे कई पोषक तत्व पाए जाते हैपोटेशियम की कमी से दांत हिलने लगते हैं और बाल बहुत टूटते हैं,

साइटिका पेन से जल्‍द छुटकारा दिलाए लहसुन का दूध
January 08, 2017 12:19 PM

इस उपचार से सियाटिक नसों में आई हुई सूजन और दर्द कम होगी और आराम मिलेगा। आज इस आर्टिकल में हम आपको इसके गुणों के बारे में बताएंगे और सिखाएंगे कि आप इसे घर पर कैसे बना सकते हैं।

साइटिका एक ऐसा दर्द है जो अधिकांश लोंगो को हो जाता है। इसमें कमर से ले कर पैर की नसों तक दर्द होता है, जिसे सियाटिक नर्व कहते हैं। कभी कभी तो यह दर्द पैरों तक चला जाता है। साइटिका का दर्द किसी को भी हो सकता है।अच्‍छी बात तो यह है कि इस बीमारी का एक घरेलू उपचार उपलब्‍ध है, जिसकी रेसिपी काफी पुरानी है। साइटिका के दर्द को दूर करने के लिये लहसुन का दूध एक आम उपचार माना गया है। इस उपचार से सियाटिक नसों में आई हुई सूजन और दर्द कम होगी और आराम मिलेगा। आज इस आर्टिकल में हम आपको इसके गुणों के बारे में बताएंगे और सिखाएंगे कि आप इसे घर पर कैसे बना सकते हैं।

आंखों के लिए ये नैचुरल दवा
January 08, 2017 12:16 PM

अगर आप दिन में कई घंटों तक लगातार कम्‍प्‍यूटर पर काम करते रहते हैं और उसकी वजह से आपको आंखों में तनाव महसूस होता है तो आपको कुछ घरेलू उपायों को अपनाना चाहिए। अगर आप दिन में कई घंटों तक लगातार कम्‍प्‍यूटर पर काम करते रहते हैं और उसकी वजह से आपको आंखों में तनाव महसूस होता है तो आपको कुछ घरेलू उपायों को अपनाना चाहिए, जिनसे आपकी आंखों की दृष्टि अच्‍छी हो जाएगी और आपको स्‍ट्रेस भी नहीं होगा।

दूध में मिलाकर हल्दी पीने के फायदे
January 06, 2017 11:59 AM

आम तौर पर सर्दी होने या शा‍रीरिक पीड़ा होने पर घरेलू इलाज के रूप में हल्दी वाले दूध का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं, कि हल्दी वाले दूध के एक नहीं अनेक फायदे हैं? आयुर्वेद में हल्दी को सबसे बेहतरीन नेचुरल एंटीबायोटिक माना गया है। इसलिए यह स्किन, पेट और शरीर के कई रोगों में उपयोग की जाती है। हल्दी व दूध दोनों ही गुणकारी हैं, लेकिन अगर इन्हें एक साथ मिलाकर लिया जाए तो इनके फायदे दोगुना हो जाते हैं। इन्हें एक साथ पीने से यह कई स्वास्थ्य संबंधित समस्याएं दूर होती हैं।

सुबह नंगे पांव हरी घास पर चलने के फायदे
January 06, 2017 11:55 AM

सुबह के वक्त की सैर सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होती है। लेकिन अगर सुबह की सैर आप हरियाली यानी हरी घासों पर करें और वह भी नंगे पांव तो उसके बड़े ही फायदे है। नंगे पैर घास पर चलना आपके स्वास्थ्य के लिहाज से बहुत फायदेमंद है। आईए उन चंद फायदों के बारे में हम जानते है।

तनाव होता है कम

आप जितनी देर और जितना ज्यादा हरियाली के बीच रहेंगे, उतने ही स्वस्थ और तनाव रहित रहेंगे। घास पर नंगे पांव चलने से धीरे-धीरे मांसपेशियों का खिंचाव कम होता है और तनाव रहित बनाता है। साथ ही ग्रीन थैरेपी से मस्तिष्क की शक्ति भी बढ़ती है।

क्यों खाने चाहिए इन सब्जियों के छिलके,जानिये
January 05, 2017 12:05 PM

अगर आपको कोई कहे कि सब्ज‍ियों के छिलके खाया करो, तो आप जाहिर तौर पर उसे पागल ही समझेंगे. लेकिन एक हालिया अध्ययन में यह बात साबित कर दी गई है कि सब्ज‍ियों के जिन छिलकों को हम वेस्ट समझकर फेंक देते हैं, दरअसल, वो हमारी सेहत के लिए बेहद उपयोगी साबित हो सकते हैं. आइये जानते हैं कि किन सब्‍ज‍ियों और फलों के छिलके का आप खाने में इस्तेमाल कर सकते हैं.

टमाटर सूप के फायदे
January 05, 2017 12:01 PM

सर्दियां आते ही टमाटर सूप पीने का मजा दोगुना हो जाता है. सबसे ज्यादा अच्छा तो ये ग्रिल्ड सैंडविच के साथ लगता है. इसमें कैलोरी की मात्रा भी काफी कम होती है. इसे आप लंच में भी ले सकते हैं और ये डिनर पार्टी का स्टार्टर भी हो सकता है.टमाटर के सूप में बहुत से पोषक तत्व होते हैं, जो स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होते हैं. इसमें विटामिन A,E,C,K और एंटी-ऑक्सीडेंट्स होते हैं. यह आपको हेल्दी और फिट रखते हैं. टमाटर के सूप के ये फायदे हैं:

शरीर में न होने दें कैल्शियम की कमी, जानिये क्‍या हैं इसके मुख्य स्रोत
January 03, 2017 11:06 AM

कैल्शियम हड्डियों की मजबूती के लिए जरूरी है। यह रक्त के थक्के जमने (ब्लड क्लॉटिंग) में भी मदद करता है। यह शरीर के विकास और मसल बनाने में भी सहायक होता है। हरी सब्जियां, दही, बादाम और पनीर इसके मुख्य स्रोत हैं। हार्ट केयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष और इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के मानद सचिव डॉ. के.के. अग्रवाल ने बताया कि कैल्शियम की कमी को हायपोकैल्शिमिया भी कहा जाता है। यह तब होता है, जब आपके शरीर को पूरी मात्रा में कैल्शियम नहीं मिलता।

12345678910...
 
 
 
 
 
India Kesari
Email : editor@indiakesari.com
Copyright © 2016 India Kesari All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech