Latest
रवीना टंडन ने अपने को-स्टार को जड़े तीन थप्पड़!सुनील ग्रोवर और किकू शारदा शाथ में करेंगे “डॉ मशहूर गुलाटी कॉमेडी क्लीनिक” शो 7 वजहों से इस दौरे को याद नहीं करना चाहेंगे विराटधर्मशाला टेस्ट: विजय-राहुल ने संभाला मोर्चा, सामने है 300 का लक्ष्यहादसाः जबलपुर की आर्डिनेंस फैक्ट्री में लगी आग बुझाई गईगुजरात: छात्रों के झगड़े से भड़की सांप्रदायिक हिंसा,मौत, छह घायलमन की बात कार्यक्रम के जरिए पीएम नरेंद्र मोदी जनता को करेंगे संबोधितफरीदाबाद: टेकचंद शर्मा के नेतृत्व में हुआ उद्योगमंत्री का भव्य स्वागतपिनगवां:मेवात के इतिहास में सबसे बड़ी रेली आगामी अप्रेल माह में Faridabad:उत्तर प्रदेश के केबीनेट मंत्री का पृथला में जोरदार स्वागत
City Icon
CHANDIGARH प्रदेश वासियों का सरकार से मोहभंग
May 12, 2015 07:05 PM

CHANDIGARH। हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने किसानों को मुआवजा देने के लिए सरकार द्वारा करवाई गई गिरदावरी में करोड़ों का घोटाला होने का आरोप लगाते हुए कहा है कि सरकार की नीतियों के कारण प्रदेश में गन्ना किसानों का करीब 550 करोड़ रुपए बकाया खड़ा है। सरकार ने अगर दस दिनों के भीतर किसानों के लिए धनराशि जारी नहीं की तो पूरे प्रदेश में आंदोलन होगा और इस किसान आंदोलन का नेतृत्व वह खुद करेंगे। हुड्डा ने आज यहां पत्रकार सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले छह माह के भीतर प्रदेश में किसानों की हालत सबसे दयनीय हुई है। जिसके लिए मौजूदा सरकार सीधे तौर पर जिम्मेदार है। हुड्डा ने कहार कि प्रदेश सरकार द्वारा पीडि़त किसानों को मुआवजा प्रदान करने के लिए करवाई गई गिरदावरी असल तथ्यों से कोसों दूर है। इसके लिए सरकार को बकायदा संबंधित गावों में प्रत्येक वर्ग को शामिल करके एक कमेटी का गठन करके ही नुकसान का आंकलन करना चाहिए था। उन्होंने कहा कि इस गिरदावरी में करोड़ों का घोटाला हुआ है। इसकी जांच करवाई जानी जरूरी है। हुड्डा ने दावा किया कि हरियाणा में 15 फरवरी के बाद गन्ना किसानों को उनकी फसल का भुगतान नहीं किया गया है। 

 
 
 
 
 
India Kesari
Email : editor@indiakesari.com
Copyright © 2016 India Kesari All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech